Chhath Puja 2020: छठ पूजा का आखिरी अर्घ्य 21 नवंबर को सुबह, जानें, छठी मइया को अर्घ्य देने का शुभ मुहूर्त

0
53


इनके प्रसिद्ध गाने जैसे छठी माई (Chhathi) के घटवा पर आजन बाजन बाजा बाजा बाजी बहू, कांच ही बांस के बहंगिया बहंगी लचकत जाये और ऊ जे मरबो रे सुगवा धनुष से सुगा गिरे मुरछाय जैसे भोजपुरी गाने (Bhojpuri Gaane) गाए और बजाए जाते हैं. इन्हीं गानों के साथ झूमते हुए हंसी-खुशी छठी मइया को अर्घ्य देकर संतान प्राप्ति और उनके अच्छे भविष्य की कामना की जाती है.

बता दें, हर साल दीवाली के छठे दिन यानी कार्तिक शुक्ल की षष्ठी को छठ पर्व (Chhath Parv) मनाया जाता है. छठी मइया की पूजा (Chhathi Maiya Ki Puja) की शुरुआत चतुर्थी को नहाए-खाय से होती है. इसके अगले दिन खरना या लोहंडा (इसमें प्रसाद में गन्ने के रस से बनी खीर दी जाती है). षष्ठी (20 नवंबर) को शाम और सप्तमी (21 नवंबर) सुबह को सूर्य देव को अर्घ्य देकर छठ पूजा की समाप्ति की जाती है. इस बार छठ पूजा 18 से 21 नवंबर तक है. यहां जानिए 21 नवंबर को दूसरा और आखिरी अर्घ्य किस समय दिया जाएगा.

सूर्य उगने का समय (दूसरा अर्घ्य)

दिल्ली

21 नवंबर को सूर्योदय का समय- 6.49

बिहार

21 नवंबर को सूर्योदय का समय- 6.09

उत्तरप्रदेश

21 नवंबर को सूर्योदय का समय- 6.30

मध्य प्रदेश

21 नवंबर को सूर्योदय का समय- 6.38

झारखंड

21 नवंबर को सूर्योदय का समय- 6.07

पश्चिम बंगाल

21 नवंबर को सूर्योदय का समय- 5.53

छत्तीसगढ़

21 नवंबर को सूर्योदय का समय- 6.17

ओडिशा

21 नवंबर को सूर्योदय का समय- 6.00

छठ पूजा से जुड़ी बाकी खबरें…

आम्रपाली दुबे के ‘छठ पूजा’ सॉन्ग का यूट्यूब पर धमाल, एक करोड़ से ज्यादा बार देखा गया Video

छठ पूजा में चढ़ने वाला डाभ नींबू सेहत के लिए है वरदान, जानें ये 6 शानदार लाभ!

Happy Chhath Puja 2020: छठ पूजा पर इन मैसेजेस से दें शुभकामनाएं और छठी मइया को करें याद

Chhath Puja 2020: आज छठ पर्व का तीसरा दिन, जानें संध्या अर्घ्य का शुभ मुहूर्त, महत्व और रेसिपी

Chhath Puja 2020:छठी मइया का आज शाम पहला अर्घ्य, जानिए सूर्य ढलने का शुभ मुहूर्त

 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here