Navratri 2020 sharad navratri akhand jyoti rituals why its important

0
39


Navratri 2020: नवरात्रि के पहले दिन भक्तों ने इस तरह किए मां के दर्शन, देखें अलग-अलग शहरों का नज़ारा

हर पूजा दीपक के बिना अधूरी है. दीपक ज्ञान, प्रकाश, श्रद्धा और भक्ति का प्रतीक है. नवरात्रि के नौ दिनों में अखंड ज्‍योति जलाई जाती है. इसका मतलब है कि इन नौ दिनों में जो दीपक जलाया जाता है वह दिन-रात जलता रहता है. नवरात्रि के पहले दिन व्रत का संकल्‍प लेते हुए कलश स्‍थापना की जाती है और फिर अखंड दीपक जलाया जाता है. मान्‍यता है कि अखंड दीपक व्रत की समाप्‍ति तक बुझना नहीं चाहिए.

Happy Navratri 2020: जानिए, देवी दुर्गा की मूर्तियों को बनाने में किन महत्वपूर्ण चीजों का होता है इस्तेमाल ?

क्या हैं अखंड ज्‍योति से जुड़े नियम ?

अगर आप भी नवरात्रि में अखंड ज्‍योति जलाना चाहते हैं तो इन नियमों का पालन करें:

– दीपक जलाने के लिए सामान्‍य से बड़े आकार का दीपक लें. यह मिट्टी का दीपक भी हो सकता है. वैसे पीतल के दीपक को शुद्ध माना जाता है.

– अखंड ज्‍योति का दीपक कभी खाली जमीन पर नहीं रखना चाहिए.

– इस दीपक को लकड़ी के पटरे या किसी चौकी पर रखें.

– पटरे या चौकी पर दीपक रखने से पहले उसमें गुलाल या रंगे हुए चावलों से अष्‍टदल बनाएं.

Navratri 2020: नवरात्रि के मौके पर इन मैसेजेस से अपने दोस्तों, करीबियों को भेजें शुभकामनाएं

– अखंड ज्‍योति की बाती रक्षा सूत्र से बनाई जाती है. इसके लिए सवा हाथ का रक्षा सूत्र लेकर उसे बाती की तरह बनाएं और फिर दीपक के बीचों-बीच रखें.

– अब दीपक में घी डालें. अगर घी उपलबध न हो तो सरसों या तिल के तेल का इस्‍तेमाल भी कर सकते हैं.

– मान्‍यता अनुसार अगर घी का दीपक जला रहे हैं, तो उसे देवी मां के दाईं ओर रखना चाहिए.

– अगर दीपक तेल का है तो उसे देवी मां के बाईं ओर रखें.

– दीपक जलाने से पहले गणेश भगवान, मां दुर्गा और भगवान शिव का ध्‍यान करें.

Happy Navratri 2020: नवरात्रि में ऐसे करें मां शैलपुत्री की पूजा, जानिए मंत्र और उनसे जुड़ी कथा

– अगर किसी विशेष मनोकामना की पूर्ति के लिए यह अखंड ज्‍योति जला रहे हैं तो पहले हाथ जोड़कर उस कामना को मन में दोहराएं.

– अब “ॐ जयंती मंगला काली भद्रकाली कपालिनी दुर्गा क्षमा शिवा धात्री स्वाहा स्वधा नमोऽस्तु‍ते।।” मंत्र का उच्चारण करते हुए दीपक जलाएं.

– अब अष्टदल पर कुछ लाल फूल भी रखें.

– ध्‍यान रहे अखंड ज्‍योति व्रत समाप्‍ति तक बुझनी नहीं चाहिए. इसलिए बीच-बीच में घी या तेल डालते रहें और बाती भी ठीक करते रहें.

Navarati Bhog 2020: नवरात्रि के 9 दिन मां दुर्गा को लगाएं ये विशेष भोग, यहां जानें किस दिन कौन- सा भोग चढ़ाएं?

नवरात्रि से जुड़ी बाकी खबरें

Navratri 2020: उपवास करने से होते हैं ये 5 नुकसान, जानें इनसे बचने के तरीके, इस तरह करें हेल्दी उपवास बरतें ये सावधानियां!

जानिए क्या हैं कुट्टू के आटे के फायदे, नवरात्रि में इस बार बनाएं ये पांच बेहतरीन व्यंजन

Navratri 2020: नवरात्रि व्रत के दौरान हाइड्रेट और हेल्दी रहने के लिए, इन 4 ड्रिंक्स का करें सेवन

Navratri 2020: इस बार नवरात्रि में नही होगा गरबा, सरकार ने जारी की गाइडलाइंस

Garba 2020: पूरी रात करना है गरबा, तो इस तरह करें खुद को तैयार, एनर्जी और स्टेमिना दोनों रहेंगे बरकरार

अगर व्रत में खाना चाहते हैं कुछ मजेदार तो ट्राई करें व्रत स्पेशल साबुदाना भेल



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here